• +91 9971497814
  • info@interviewmaterial.com

Chapter 2- अम्ल, क्षार एवं लवण (Acids, Bases and Salts) Interview Questions Answers

Question 1 :
कोई विलयन लाल लिटमस को नीला कर देता है, इसका pH संभवतः क्या होगा?
(a)1
(b)4
(c)5
(d) 10

Answer 1 : (d) 10

Question 2 :
कोई विलयन अंडे के पिसे हुए कवच से अभिक्रिया कर एक गैस उत्पन्न करता है जो चूने के पानी को दुधिया कर देती है। इस विलयन में क्या होगा?
(a) NaCl
(b) HCl
(c) LiCl
(d) KCI

Answer 2 : (b) HCl

Question 3 :
NaOH का 10 ml विलयन, HCI के 8 mL विलयन से पूर्णतः उदासीन हो जाता है। यदि हम NaOH के उसी विलयन का 20 mL लें तो इसे उदासीन करने के लिए HCI के उसी विलयन की कितनी मात्रा की आवश्यकता होगी?
(a)4 mL
(b) 8 ml
(c) 12 mL
(d) 16 mL

Answer 3 : (d) 16 mL

Question 4 :
अपच का उपचार करने के लिए निम्न में से किस औषधि का उपयोग होता है?
(a) एंटीबायोटिक (प्रतिजैविक)
(b) एनालजेसिक (पीड़ाहारी)
(c) ऐन्टैसिड (प्रतिअम्ल)
(d) एंटीसेप्टिक (सडनरोधी)

Answer 4 : (c) ऐन्टैसिड (प्रतिअम्ल)

Question 5 :
निम्न अभिक्रिया के लिए पहले शब्द-समीकरण लिखिए तथा उसके बाद संतुलित समीकरण लिखिए:
(a) तनु सल्फरयूरिक अम्ल दानेदार जिंक के साथ अभिक्रिया करता है।
(b) तनु हाइड्रोक्लोरिक अम्ल मैग्नीशियम पट्टी के साथ अभिक्रिया करता है।
(c) तनु सल्फरयूरिक अम्ल ऐलुमिनियम चूर्ण के साथ अभिक्रिया करता है।
(d) तनु हाइड्रोक्लोरिक अम्ल लौह के रेतन के साथ अभिक्रिया करता है।

Answer 5 :

(a) Zn (s) + H2SO (aq) = ZnSO4 (aq) +H2 (g)

(b) Mg (s) + 2HCI (aq) = MgCl2 (aq) + H2 (g)

(c) 2Al (s) + 3H2SO4 (aq) = Al2(SO4)3 (aq)+ H2 (g)

(d) Fe(s) + 2HCI (aq) = FeCl(aq) + H(g)

Question 6 : एल्कोहोल एवं ग्लूकोज जैसे यौगिको में भी हाइड्रोजन होते है लेकिन इनका वर्गीकरण अम्ल कि तरह नहीं होता है | एक क्रियाकलाप द्वारा इसे साबित कीजिए |

Answer 6 : ग्लूकोज़, ऐल्कोहॉल, हाइड्रोक्लोरिक अम्ल, सल्फ्यूरिक अम्ल आदि का विलयन लीजिए। एक कॉर्क पर दो कीलें लगाकर कॉर्क को 100 mL के बीकर में रख दीजिए। अब किलों को 6 वोल्ट की एक बैटरी के दोनों टर्मिनलो के साथ एक बल्ब तथा स्विच के माध्यम से जोड़ दीजिए | अब बीकर में थोड़ा तन HCI डालकर विद्युत धारा प्रवाहित कीजिए इसी क्रिया को तनु सल्फ्यूरिक अम्ल के साथ दोहराइए। एल्कोहोल एवं ग्लूकोज जैसे यौगिको में भी हाइड्रोजन होते है लेकिन इनका वर्गीकरण अम्ल कि तरह नहीं होता है क्योंकि ये 'आयन नहीं बनाता है |

Question 7 : आसवित जल विधुत का चालक क्यों नहीं होता जबकि वर्षा जल होता है ?

Answer 7 : आसवित जल शुद्ध होते है। इसलिए इनमे विधुत का चालन नहीं होता है क्योकि विधत के चालन के लिए आयनों की आवश्यकता होती है | जबकि वर्षा जल में विधुत का चालन होता है क्योकि इसमें थोड़ी मात्रा में अम्ल विद्यमान रहता है | जोंकी वायु में उपस्थित सल्फर - डाइआक्साइड और नाइट्रोजन डाइआक्साइड के साथ मिलकर इसे अम्लीय बना देते है अम्लीय होने के कारण ये H आयन उत्पन्न करते है जिसके कारण विधुत का चालन होता है।

Question 8 : जल की अनुपस्थिति में अम्ल का व्यवहार अम्लीय क्यों नहीं होता है ?

Answer 8 : जल की अनुपस्थिति में अम्ल का व्यवहार अम्लीय नहीं होता है क्योंकि जल की उपस्थिति में ही H+आयन अम्ल से अलग होते है।

Question 9 :
पाँच विलयनो A, B, C, D, E की जब सार्वत्रिक सूचक से जांच कि जाती हैतो के मान क्रमशः 4,1, 11,7, एवं 9 प्राप्त होते है | कौन सा विलयन :
(a) उदासीन है ?
(b) प्रबल क्षारीय है ?
(c) प्रबल अम्लीय है ?
(d)दुर्बल अम्लीय है ?
(e) दुर्बल क्षारीय है?
H+ के मानो को हाइड्रोजन आयन की सांद्रता के आरोही क्रम में व्यवस्थित कीजिए।

Answer 9 :


H+ आयन की सांद्रता जैसे - जैसे बढ़ती है pHका मान उसी प्रकार घटता है।

C

Question 10 :

परखनली 'A' एवं 'B' में समान लंबाई की मैग्नीशियम की पट्टी लीजिए। परखनली 'A' में हाइड्रोक्लोरिक अम्ल (HCI) तथा परखनली B' में ऐसिटिक अम्ल (CH3COOH) डालिए। किस परखनली में अधिक तेजी से बुदबुदाहट होगी तथा क्यों?

Answer 10 : परखनली 'A' में अधिक बुदबुदाहट होगी क्योंकि हाइड्रोक्लोरिक अम्ल एसेटिक अम्ल से अधिक प्रबल अम्ल है।


Selected

 

Chapter 2- अम्ल, क्षार एवं लवण (Acids, Bases and Salts) Contributors

krishan

Share your email for latest updates

Name:
Email:

Our partners