• +91 9971497814
  • info@interviewmaterial.com

Chapter 3- परमाणु एवं अणु Interview Questions Answers

Question 1 :
एक अभिक्रिया में 5.3 g सोडियम कार्बोनेट एवं 6.0 g एथेनॉइक अम्ल अभिकृत होते हैं। 2.2 g कार्बन डाइऑक्साइड, 8.2 g सोडियम एथोनॉएट तथा 0.9 g जले उत्पाद के रूप में प्राप्त होते हैं। इस अभिक्रिया द्वारा दिखाइए कि यह परीक्षण द्रव्यमान संरक्षण के नियम के अनुरूप है।
सोडियम कार्बोनेट + एथेनॉइक अम्ल → सोडियम एथेनॉएट + कार्बन डाइऑक्साइड + जल

Answer 1 :

दी गई रासायनिक अभिक्रिया निम्न प्रकार से है
सोडियम कार्बोनेट + एथेनॉइक अम्ल (जलीय विलयन) → सोडियम एथेनॉएट (जलीय विलयन) + कार्बन डाइऑक्साइड + जल
(i) अभिकर्मकों की कुल द्रव्यमान = सोडियम कार्बोनेट का द्रव्यमान + एथेनॉइक अम्ल का द्रव्यमान
= 5.3 g + 6.0 g = 11.3 g
(ii) उत्पादों का कुल द्रव्यमान = (सोडियम एथेनोएट + कार्बन डाइऑक्साइड + जल का द्रव्यमान)
= 8.2 g + 2.2 g + 0.9 g = 11.3 g
अभिकर्मकों का कुल द्रव्यमान तथा उत्पादों का कुल द्रव्यमान समान है।
अतः ये द्रव्यमान संरक्षण के नियम को प्रदर्शित करते हैं।

Question 2 :
हाइड्रोजन एवं ऑक्सीजन द्रव्यमान के अनुसार 1 : 8 के अनुपात में संयोग करके जल बनाते हैं। 3g हाइड्रोजन गैस के साथ पूर्णतया संयोग करने के लिए कितने ऑक्सीजन गैस के द्रव्यमान की आवश्यकता होगी ?

Answer 2 :

जल में संहति के अनुसार हाइड्रोजन तथा ऑक्सीजन का अनुपात = 1 : 8
1 ग्राम हाइड्रोजन पूर्णतया क्रिया करके जल बनाने के लिए आवश्यक ऑक्सीजन = 8 ग्राम
अत: 3 ग्राम हाइड्रोजन के पूर्णतया क्रिया करने के लिए आवश्यक ऑक्सीजन = 8 x 3 = 24 ग्राम।

Question 3 :
डाल्टन के परमाणु सिद्धान्त का कौन-सा अभिग्रहीत द्रव्यमान के संरक्षण के नियम का परिणाम है?

Answer 3 :

द्रव्यमान का की संरक्षण नियम डाल्टन के निम्नलिखित सिद्धान्त पर आधारित है – तत्त्व के परमाणुओं को किसी भी विधि द्वारा न तो नष्ट किया जा सकता है और न ही उत्पन्न किया जा सकता है।

Question 4 :
डाल्टन के परमाणु सिद्धान्त का कौन-सा अभिग्रहीत निश्चित अनुपात के नियम की व्याख्या करता है?

Answer 4 :

डाल्टन के परमाणु सिद्धान्त का निम्नलिखित अभिग्रहीत निश्चित अनुपात के नियम की व्याख्या करता है : किसी भी यौगिक में परमाणुओं की सापेक्ष संख्या एवं प्रकार निश्चित होते हैं तथा भिन्न-भिन्न तत्त्वों के परमाणु परस्पर छोटी पूर्णसंख्या के अनुपात में संयोग कर यौगिक निर्मित करते हैं।

Question 5 :
परमाणु द्रव्यमान इकाई को परिभाषित कीजिए।

Answer 5 :

परमाणु द्रव्यमान इकाई : कार्बन-12 समस्थानिक के एक परमाणु के द्रव्यमान के 1/12 वें भाग को परमाणु द्रव्यमान इकाई के रूप में लिया जाता है।

Question 6 : एक परमाणु को आँखों द्वारा देखना क्यों संभव नहीं होता है ?

Answer 6 :

परमाणु बहुत सूक्ष्म होते हैं। ये किसी भी वस्तु जिसकी हम कल्पना या तुलना कर सकते हैं, से भी बहुत छोटे होते हैं। लाखों परमाणुओं को जब एक के ऊपर एक चट्टे के रूप में रखें, तो बड़ी कठिनाई से कागज की एक शीट जितनी मोटी परत बन पाएगी। परमाणु का आकार लगभग 10-10 m होता है
अतः हम इसे नगण्य मान सकते हैं जिसे आँखों द्वारा नहीं देख सकते।

Question 7 : सारणी में दिए गए यौगिकों की संख्या से तत्त्वों का अनुपात ज्ञात कीजिए।

Answer 7 :


Question 8 :
निम्न के सूत्र लिखिए
(i) सोडियम ऑक्साइड
(ii) ऐलुमिनियम क्लोराइड
(iii) सोडियम सल्फाइड
(iv) मैग्नीशियम इड्रॉक्साइड

Answer 8 : (i) सोडियम ऑक्साइड का सूत्र

Question 9 : निम्नलिखित सूत्रों द्वारा प्रदर्शित यौगिकों के नाम लिखिए
(i) Al2(SO4)3
(ii) CaCl2
(iii) K2SO4
(iv) KNO3
(v) CaCO3

Answer 9 :

(i) Al2(SO4)3 –ऐलुमिनियम सल्फेट
(ii) CaCl2 –
कैल्सियम क्लोराइड
(iii) K2SO4 –
पोटैसियम सल्फेट
(iv) KNO3 –
पोटैसियम नाइट्रेट
(v) CaCO3 –
कैल्सियम कार्बोनेट

Question 10 : रासायनिक सूत्र का क्या तात्पर्य है?

Answer 10 : किसी यौगिक का रासायनिक सूत्र उसके संघटक का प्रतीकात्मक निरूपण होता है।


Selected

 

Chapter 3- परमाणु एवं अणु Contributors

krishan

Share your email for latest updates

Name:
Email:

Our partners