• +91 9971497814
  • info@interviewmaterial.com

Chapter 1- समानता Interview Questions Answers

Question 1 : आपके विचार से समानता के बारे में शंका करने के लिए कांता के पास क्या पर्याप्त कारण हैं? उपरोक्त कहानी के आधार पर उसके ऐसा सोचने के तीन कारण बताइए।

Answer 1 :

कांता के समानता के बारे में शंका करने के तीन कारण
1. कांता एक झोपड़पट्टी में रहती है और उसके घर के पीछे एक नाला है। यह एक आर्थिक विषमता | का सूचक है। 
2. उसे अपने काम में एक भी छुट्टी नहीं मिलती जबकि निगमित उद्यम में काम करने वाले लोगों को कई-कई छुट्टियाँ मिलती हैं। 
3. उसे अपने बच्चों का इलाज कराने के लिए सरकारी अस्पताल में लंबी लाइन लगानी पड़ती है। जबकि सम्पन्न लोग निजी अस्पतालों में अपने बच्चों का इलाज कराते हैं जिसमें उन्हें लंबी लाइन नहीं लगानी पड़ती है। 

Question 2 : आपके विचार से ओमप्रकाश वाल्मीकि के साथ उसके शिक्षक और सहपाठियों ने असमानता का व्यवहार क्यों किया था? अपने-आपको ओमप्रकाश वाल्मीकि की जगह रखते हुए चार पंक्तियाँ लिखिए कि उक्त स्थिति में आप कैसा अनुभव करते? 

Answer 2 : हमारे समाज में सामाजिक असमानता और आर्थिक असमानता कायम है। सामाजिक असमानता के तहत जातीय आधार पर भेदभाव किए जाते हैं। इसी आधार पर ओमप्रकाश बाल्मीकि के साथ उसके शिक्षक और सहपाठी ने असमानता का व्यवहार किया।

अगर हम ओमप्रकाश वाल्मीकि की जगह होते तो हमें निम्न तरह का अनुभव होता
1. सामाजिक व्यवस्था के खिलाफ असंतोष पैदा होता। 
2. जातीय आधार पर भेदभाव को भी गलत मानते। 
3. अपने आपको सम्मानित महसूस नहीं करते। 
4. हमारे मन में कुंठा और ग्लानि उत्पन्न होती। 

Question 3 : आपके विचार से अंसारी दंपति के साथ असमानता का व्यवहार क्यों किया जा रहा था? यदि आप अंसारी दंपति की जगह होते और आपको रहने के लिए इस कारण जगह न मिलती क्योंकि कुछ पड़ोसी आपके धर्म के कारण आपके पास नहीं रहना चाहते, तो आप क्या करते? 

Answer 3 :

हमारे देश में कई तरह की विविधता है। इन विविधताओं में जाति, भाषा, धर्म, लिंग, क्षेत्र और संस्कृति प्रमुख है। इन विविधताओं के कारण देश में कुछ लोग एक-दूसरे से भेदभाव करते हैं। इस भेदभाव का मुख्य कारण संकीर्ण मानसिकता और शिक्षा का अभाव है। यदि हम अंसारी दंपति की जगह होते और हमें रहने के लिए इस कारण जगह नहीं मिलती, क्योंकि कुछ पड़ोसी हमारे धर्म के कारण हमारे पास नहीं रहना चाहते हैं तो हम निम्न गतिविधि को करते
1. अपने पड़ोसी को समझाने का प्रयास करते। 
2. अपने मकान मालिक को उनके अनुकूल रहने का भरोसा दिलाते। 
3. हम अपने अच्छे विचारों को उनके सामने रखते। 

Question 4 : यदि आप अंसारी परिवार के एक सदस्य होते, तो प्रॉपर्टी डीलर के नाम बदलने के सुझाव का उत्तर किस प्रकार देते? 

Answer 4 :

यदि हम अंसारी परिवार के एक सदस्य होते तो प्रॉपर्टी डीलर के नाम बदलने के सुझाव का उत्तर निम्न प्रकार से देते
1. प्रॉपर्टी डीलर को यह बतलाते कि हम अपना नाम बदल सकते हैं, लेकिन मिलने वाले रिश्तेदारों का नाम कैसे बदलेंगे। 
2. नाम बदलने के बाद अपने मजहब के पर्व त्यौहार, नमाज पढ़ना और रीति-रिवाजों को कैसे छोड़ सकते हैं। 
3. नाम बदलने से हमेशा जो मन में डर बना रहेगा कि कहीं मकान मालिक और पड़ोसी को हमारे धर्म
के बारे में पता न चल जाए। 

Question 5 : क्या आपको अपने जीवन की कोई ऐसी घटना याद है, जब आपकी गरिमा को चोट पहुँची हो? आपको उस समय कैसा महसूस हुआ था? 

Answer 5 : भारत में कई आधारों पर लोगों की गरिमा को चोट पहुँचाई जाती है। दिल्ली जैसे शहर में पूर्वांचल से (बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, झारखंड) आने वाले लोगों को बिहारी कहकर संबोधित किया जाता है। यह संबोधन व्यंग्य का प्रतीक है। यह शब्द बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, झारखंड के लोगों के लिए ही संबोधन नहीं किया जाता बल्कि दिल्ली में भी किसी व्यक्ति को अपमानित करना होता है तो उसे बिहारी शब्द से संबोधित करके अपमानित करते हैं। ऐसी स्थिति में मुझे यह महसूस होता है कि भारतीयों में सबसे बड़ी कमी यही है कि वे अपनी कमी को नहीं देखते बल्कि दूसरे की कमी को देखकर व्यंग्य करते हैं। यही कारण है कि हमारे देश के पास पर्याप्त संसाधन हैं, लेकिन हम पिछड़े हुए हैं।

Question 6 : मध्याह्न भोजन कार्यक्रम क्या है? क्या आप इस कार्यक्रम के तीन लाभ बता सकते हैं? आपके विचार से यह कार्यक्रम किस प्रकार समानता की भावना बढ़ा सकता है? 

Answer 6 :

मध्याह्न भोजन कार्यक्रम के अंतर्गत सभी सरकारी प्राथमिक स्कूलों के बच्चों को दोपहर का भोजन स्कूल द्वारा दिया जाता है। यह योजना भारत में सर्वप्रथम तमिलनाडु राज्य में प्रारंभ की गई और 2001 में उच्चतम न्यायालय ने सभी राज्य सरकारों को इसे अपने स्कूलों में छह माह के अंदर आरंभ करने के निर्देश दिए।
मध्याह्न भोजन कार्यक्रम के तीन लाभ
1. दोपहर का भोजन मिलने के कारण गरीब बच्चों ने अधिक संख्या में स्कूल में प्रवेश लेना और नियमित रूप से स्कूल जाना शुरू कर दिया। 
2. इस कार्यक्रम के पहले बच्चे खाना खाने घर जाते थे और फिर वापस स्कूल लौटते ही नहीं थे, परंतु इस कार्यक्रम के बाद उनकी दोपहर की उपस्थिति में सुधार आया है। 
3. वे माताएँ जिन्हें पहले अपना काम छोड़कर दोपहर को बच्चों को खाना खिलाने के लिए घर पर आना पडता था, अब उन्हें ऐसा नहीं करना पड़ता है। 

Question 7 : अपने क्षेत्र में लागू की गई किसी एक सरकारी योजना के बारे में पता लगाइए। इस योजना में क्या किया जाता है। यह किसके लाभ के लिए बनाई गई है? 

Answer 7 : हमारे क्षेत्र दिल्ली में सरकार द्वारा छात्रों को स्कूल ड्रेस के लिए पैसे दिए जाते हैं। यह रकम कक्षा के अनुसार अलग-अलग दिए जाते हैं। बिहार राज्य में स्कूल ड्रेस के लिए और साइकिल के लिए छात्राओं को पैसे दिए जाते हैं। दिल्ली में लाडली योजना के तहत लड़कियों की शादी के लिए कुछ रकम दी जाती है। इस योजना द्वारा दिए जाने वाली अधिकतम राशि एक लाख रुपये है। हरियाणा और उत्तर प्रदेश सरकार ने भी लड़कियों के लिए योजना लागू की है। इन राज्यों के अतिरिक्त भी कई राज्यों में विभिन्न योजनाएँ लागू की गई हैं।

Question 8 : लोकतंत्र में सार्वभौमिक वयस्क मताधिकार क्यों महत्त्वपूर्ण है?

Answer 8 :

लोकतंत्र में सार्वभौमिक वयस्क मताधिकार का महत्त्व
1. सार्वभौमिक वयस्क मताधिकार भारत के सभी नागरिकों को प्राप्त है। 
2. ‘सार्वभौमिक वयस्क मताधिकार का विचार’ समानता के विचार पर आधारित है, क्योंकि यह घोषित करता है कि देश का प्रत्येक वयस्क स्त्री/पुरुष चाहे उसका आर्थिक स्तर या जाति कुछ भी क्यों न हो, एक वोट का हकदार है। 
3. सार्वभौमिक वयस्क मताधिकार के माध्यम से भारत का प्रत्येक नागरिक अपने प्रतिनिधियों का चुनाव स्वयं करता है। 

Question 9 : बॉक्स में दिए गए संविधान के अनुच्छेद 15 के अंश को पुनः पढ़िए और दो ऐसे तरीके बताइए, जिनसे यह अनुच्छेद असमानता को दूर करता है?

Answer 9 :

अनुच्छेद 15 के द्वारा असमानता को दूर करने के तरीके
1. राज्य किसी नागरिक के विरुद्ध केवल धर्म, मूलवंश, जाति, लिंग, जन्मस्थान या इनमें से किसी के आधार पर कोई भेद नहीं करेगा। 
2. कोई नागरिक केवल धर्म, मूलवंश, जाति, लिंग जन्मस्थान या इनमें से किसी के आधार पर किसी व्यक्ति को दुकानों, सार्वजनिक भोजनालयों और सार्वजनिक मनोरंजन के स्थानों में प्रवेश करने से वंचित नहीं कर सकता। पूर्णतः अंशतः राज्य निधि से निर्मित कुँओं, तालाबों, स्नानघाटों, सड़कों और सार्वजनिक समागम के स्थानों के उपयोग पर प्रतिबंध नहीं लगा सकता। 

Question 10 : ओमप्रकाश वाल्मीकि का अनुभव, अंसारी दंपति के अनुभव से किस प्रकार मिलता था?

Answer 10 :

ओमप्रकाश वाल्मीकि और अंसारी दंपति का अनुभव निम्न रूप से समान था
1. ओमप्रकाश वाल्मीकि को समाज के अन्य उच्च वर्गों के छात्रों से अलग फर्श पर बैठना पड़ता था और शिक्षकों के द्वारा भी उससे झाड़ लगवाया जाता था, उसी तरह से अंसारी दंपति को भी लोग अपने मकान में कमरा नहीं देना चाहते थे। 
2. ओमप्रकाश वाल्मीकि के साथ असमानता का व्यवहार जातिगत कारणों से किया गया था, जबकि अंसारी दंपति के साथ असमानता का व्यवहार धार्मिक कारणों से किया गया था। 


Selected

 

Chapter 1- समानता Contributors

krishan

Share your email for latest updates

Name:
Email:

Our partners